यूपी के मद’रसों पर योगी सरकार का बड़ा फ़ैसला,

India

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य के म’दरसों को लेकर सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। अब उत्तर प्रदेश में मौजूद मदरसों की जानकारी मानव संपदा पोर्टल पर अपलोड की जाएगी। इस बारे में जानकारी देते हुए अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहसिन रजा ने बताया है कि म’दर’सों में शिक्षकों के नाम पर फ’र्जीवा’ड़ा हो रहा था जो कि अब नहीं चलेगा।

हम इसके खि’लाफ सख्त कदम उठाने जा रहे हैं। उन्होंने बताया है कि प्रदेश की योगी सरकार म’दरसा शिक्षकों की ग’ड़बड़ि’यों को रोकने के लिए अब मदरसे में पढ़ाने वाले शिक्षकों का विवरण मानव संपदा पोर्टल पर अपलोड करवाएगी। जिससे म’दरसे में पढ़ाने वाले शिक्षक भी पकड़ में आ जायेंगे। जो कि एक साथ कई म’दर’सों में काम कर रहे हैं।

इसके साथ ही सभी म’दर’सा शिक्षकों का विवरण भी एक ही जगह पर इकट्ठा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार म’द’रसा शिक्षकों के लिए ट्रांसफर नीति पर भी विचार कर रही है। जिससे ना सिर्फ ट्रां’स’पेरेंसी आएगी बल्कि म’दरसा शिक्षा में भी सुधार आएगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश में 560 अनुदानित म’दरसे हैं। इनमें नौ हजार शिक्षक पढ़ाते हैं। इनका वेतन प्रदेश सरकार देती है। पहले चरण में अनुदानित म’दरसा शिक्षकों का विवरण मानव संपदा पोर्टल पर फीड किया जाएगा।

इसके बाद दूसरे चरण में मान्यता प्राप्त अन्य म’दरसा शि’क्षकों के विवरण ऑनलाइन किए जाएंगे। कई बार म’दर’सा प्रबंधक मान्यता लेने के लिए दूसरे म’दर’सों के शिक्षकों को अपने यहां का बता देते हैं। इस पर भी नई व्यवस्था से लगाम लगेगी। इसी के साथ सरकार ने म’दर’सों में एनसीईआरटी पैटर्न लागू करने का कदम भी उठाया था, जिससे म’दरसों की शिक्षा व्‍यवस्‍था में बड़ा बदलाव हुआ था। आपको बता दें कि प्रदेश में कुल म’दर’सों की संख्या 17000 के करीब है, जिनमें प्राइवेट म’दरसे भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *