VIDEO: बा’बरी म-स्जिद पर उद्धव ठाकरे ने दिया गलत बयान, सभी मु-स्लिम मंत्री देगें इस्तीफा ? –

India

समाजवादी पार्टी की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख अबू आजमी ने बुधवार को विधानसभा में BAबरी म-स्जिद पर दिए गए बयान पर कड़ी नाराजगी जताई।  उन्होंने मुख्यमंत्री के बयान की आलोचना करते हुए मु-स्लिम मंत्रियों के इस्तीफे की मांग तक कर डाली। एक सेक्युलर देश मे उन्हें ऐसा बयान शोभा नही देता ।

दरअसल ठाकरे ने अपने बयान में कहा था कि जब BAबरी Mस्जिद विध्वंस हुआ था उस समय वे सब वहां से भाग खड़े हुए थे। तब शिवसेना संस्थापक बालासाहेब ठाकरे ने कहा था, अगर इस घटना में शिव सैनिक शामिल हैं, तो उन्हें इस पर गर्व है। आज Hinदुत्व की बात करने वाले बताएं कि उस समय Hinदुत्व कहां चला गया था जब Jmमू-Kश्मीर में पीडीपी के साथ मिलकर भाजपा ने सरकार बनाई थी?

आजमी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री को ध्यान रखना चाहिए कि महाराष्ट्र की सरकार एक सेक्यूलर सरकार है, सिर्फ शि-वसेना की सरकार नहीं हैं। इसीलिए यहां दु-Mस्लिम की बात नहीं होनी चाहिए।’ उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने Mस्जिद का विध्वंस को एक आपराधिक कृत्य कहा था। आजमी ने कांग्रेस और एनसीपी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘इन दलों ने अतीत में MuSलमानों को शिक्षा और नौकरियों में पांच प्रतिशत आरक्षण देने की बात कही थी, लेकिन अब तक नहीं दिया। कम से कम Muस्लिम मंत्रियों को तो शर्मिंदगी महसूस होनी चाहिए और ठाकरे के बयान और आरक्षण के मुद्दे पर उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए।’

सपा नेता ने कहा कि राज्य की महाविकास अघाडी सरकार बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए बनी थी और कांग्रेस तथा एनसीपी ने उसे न्यूनतम साझा कार्यक्रम (सीएमपी) पर सहमति के आधार पर समर्थन दिया था। उन्होंने कहा, ठाकरे ने कहा था कि वह महाराष्ट्र में सीएए-एनआरसी लागू नहीं करेंगे। कांग्रेस-एनसीपी ने कहा था कि राज्य में MUस्लिमों के लिए पांच प्रतिशत आरक्षण लागू करेंगे, अब वे सत्ता में हैं। उन्हें कदम उठाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *