भाजपा सांसद ने मुस’लमानों के लिए बहुत ही बड़ा बयान दिया है –

India

भारतीय जनता पार्टी के सांसद तेजस्वी सूर्य ने एक बार फिर से देश के मु’स’लमानों को लेकर अ’पमान’जनक बयान दे डाला है। उन्होंने सड़कों का नाम मु’स्लिम शख्सियतों के नाम पर रखे जाने की कड़ी आ’लोचना की है। बेंगलुरु नगर निगम से मु’स्लिम बहुल इलाकों में गैर मु’स्लिम महापुरुषों के नाम पर विचार करने के लिए कहा है। भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्य का कहना है कि देश में गैर मु’स्लिम

महापुरुषों रा’ष्ट्र भ’क्तों की कमी नहीं है। उन्हीं के नामों पर बेंगलुरु में सड़कों का नामकरण होना चाहिए। इस मामले में कन्नड़ खबर में प्रकाशित एक खबर में बेंगलुरु दक्षिण के सांसद ने महानगर पालिका आयुक्त एन मंजूनाथ प्रसाद को एक पत्र लिखा है। जिसमें उन्होंने कहा है कि मुस’लमा’नों के नाम पर सड़कों का ना’मकरण नहीं होना चाहिए।

उन्होंने बीबीएमपी के मु’सलमा’नों के नाम पर सड़कों के नामकरण के सुझाव पर आपत्ति जाहिर की है। तेजस्वी सूर्या का कहना है कि मु’स्लि’म बहुल इलाकों में सड़कों का नामकरण मु’सलमा’नों के नाम पर करना द्विराष्ट्र सि’द्धांत वाली सोच है। यह उसी तरह की सां’प्रदा’यिक सोच है, जब मुस्लिम लीग ने हिं’दुओं और मु’सलमा’नों के लिए अलग-अलग मतदाता सूची की मांग की थी। यह

खतरना’क विचार है और इसकी निंदा होनी चाहिए।’ इसके साथ ही भाजपा सांसद ने यह भी कहा है कि गै’र मु’स्लिम महापुरुषों और दे’शभ’क्तों कि देश में कोई कमी नहीं है। इसके चलते इस फैसले पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए। भाजपा ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर सड़क का नामकरण करने की मांग की। हालांकि, नगर निगम ने 2006 में डॉ. खान के नाम पर सड़क का नामकरण करने संबंधी प्रस्ताव पारित कर दिया था।

इससे पहले वि’वाद तब शुरू था जब बीबीएमपी ने शहर के इंदिरानगर में 100 फुट चौड़ी सड़क का नामकरण लोक कला के नामी विशेषज्ञ डॉ. एस के करीम खान के नाम पर करने का फैसला किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *