किसान आंदोलन के इस दौर में, मौ’लाना तारिक़ ज़मील ने मीडिया को लेकर बड़ा बयान दिया है ? किसी को उम्मीद नही थी –

World

पाकि स्तान (Pak istan) के एक प्रमुख मौ लाना तारिक जमील (Ma ulana Tariq Jamil) ने देश में कोरोना (Corona virus) पीड़ितों की मद्द के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रम ‘कोरोना रिलीफ फंड टेलीथॉन’ के अवसर पर कहा कि ‘महज पाकि स्‍तान का मीडिया ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया का मीडिया झूठा है.’ उन्होंने ये बात भी एक मीडिया के ज़रिए ही कही जिसका माध्यम भी मीडिया बना है ।

‘उर्दू न्‍यूज डॉट कॉम’ की एक खबर के हवाले से बताया गया है कि पाकि स्तानी पत्रकार और एंकर आस्मा शीराजी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर मौलाना तारिक जमील का एक वीडियो शेयर किया है. इसमें मौलाना तारिक जमील मीडिया को झूठा करार देते नजर आ रहे हैं. ‘चैनल खत्‍म हो सकता है, झूठ खत्‍म नहीं हो सकता’ । अब ऐसा उन्होंने क्यों कहा ये तो पूरी दुनिया जानती ही है ।

मौ लाना तारिक जमील ने कहा, ‘मैं इन ऐंकर के सामने माफी मांग कर एक बात कह रहा हूं. एक बहुत बड़े चैनल के मालिक ने मुझसे कहा कि कोई नसीहत करें, तो मैंने उनसे कहा कि वह चैनल से झूठ खत्‍म करें, तो उनका कहना था कि चैनल खत्‍म हो सकता है, झूठ नहीं खत्‍म हो सकता. यह सिर्फ पाकि स्तान की बात नहीं है, बल्कि पूरी दुनिया का मीडिया झूठा है.’

एहसास टेलीथॉन कार्यक्रम में पाकि स्‍तान के प्रधान मंत्री इमरान खान समेत देश के प्रमुख पत्रकार और अन्य हस्तियां भी मौजूद थीं. कोरोना रिलीफ फंड टेलीथॉन के अवसर पर इमरान खान ने कहा कि ‘सरकार को कारोबार खोलना पड़ेंगे और स्‍मार्ट लॉकडाउन की तरफ जाना पड़ेगा.’ इस समय हैशटैग मौ लाना तारिक जमील ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है.

मौ लाना तारिक जमील के बयान के बाद ट्विटर यूजर्स की ओर से उनके वीडियो पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. पत्रकार अजमल जामी ने ट्वीट किया, ‘मौला ना तारिक जमील का पाकिस्तानी मीडिया के जरिये अहम संदेश.’ वहीं पत्रकार नाजिया अशर ने ट्वीट किया कि ‘मीडिया के जरिये एक पैगाम दिया गया कि तमाम मीडिया झूठा है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *