मोहम्मद सिराज ने जन्मदिन के मौके पर बताई बड़ी बात “कभी मिलते थे 500

Sports

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज आज अपने जन्मदिन के चलते चारों तरफ चर्चा बटोर रहे हैं, टीम इंडिया के आक्रामक गेंदबाजी आज पूरे 27 साल के हो गए हैं. उनके जन्मदन के खास मौके पर उनकी जीवन से जुड़ी कई कहानियां तेजी से वायरल हो रही हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल ही में सिराज ने पहली बार टेस्ट में अपनी अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू किया था.

भारत की तरफ से खेलने का उनका सपना ऑस्ट्रेलिया की धरती पर साकार हुआ. इस रिपोर्ट में जानते हैं उनके क्रिकेट जीवन से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें…सिराज के पिता ऑटो रिक्शा चलाते थे. उनकी इतनी कमाई नहीं थी कि वो बेटे के क्रिकेट के सपने को पूरा कर पाते. हालांकि सिराज ने पैसे की वजह से अपना पैशन नहीं छोड़ा और अपनी प्रैक्टिस जारी रखी. उनका क्रिकेट के प्रति यह जुनून ही था जो उन्हें आज अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचा दिया.

7वीं क्लास में मोहम्मद सिराज थे जब उन्होंने क्रिकेट में दिलचस्पी लेनी शुरू की. साल 2015 की बात है, जब पहली दफा उन्होंने क्रिकेट बॉल से गेंद फेंकी थी. आप इस बात से यह अंदाजा लगा सकते हैं कि, क्रिकेट खेलने के लिए मिलने वाली सुविधाओं से वो कितने ज्यादा वंचित थे.हालांकि वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी कि, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती, और क्रिकेट के प्रति सिराज की यही दीवानगी उन्हें टीम इंडिया की तरफ खींच लाई.

अपने दृढ़ इरादे के दम पर ही उनकी नीली जर्सी का सपना तब साकार हुआ, जब न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने साल 2017 में टी-20 फॉर्मेट में डेब्यू किया था.इसके बाद पहली बार वनडे फॉर्मेट में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ साल 1019 में 15 जनवरी को डेब्यू किया था. लेकिन टेस्ट में डेब्यू का सपना तब साकार हुआ जब पहली बार साल 2021 में ऑस्ट्रेलिया की मेलबर्न धरती पर मोहम्मद सिराज को अजिंक्य रहाणे अपनी कप्तानी में डेब्यू का मौका दिया. इसके बाद उन्होंने अपनी गेंदबाजी से तलहका मचा दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *