Home Lifestyles देश की इकलौती जगह, जहां शिया-सुन्नी ने साथ अदा की ईद की...

देश की इकलौती जगह, जहां शिया-सुन्नी ने साथ अदा की ईद की नमाज

ईद के रोज़ आज जब सारे देश में शिया और सुन्नी मुसलमान अपनी-अपनी मस्जिदों में अलग-अलग नमाज़ पढ़ रहे थे, लखनऊ के आम लोगों ने शिया सुन्नी नमाज़ साथ-साथ करवाई. शिया लोगों के एक इमामबाड़े में सुन्नी मौलाना के पीछे सबने नमाज़ अदा की. यह ‘शोल्डर टु शोल्डर’ नाम की एक तहरीक का हिस्सा है, जो अलग-अलग फिरकों और मज़हबों के लोगों को जोड़ने का काम करती है.

यह नमाज़ लखनऊ में शिया लोगों के शाहनजफ इमामबाड़े में हुई, जहां एक सुन्नी मौलाना के पीछे खड़े होकर सबने नमाज अदा की. यूं तो सभी मुसलमानों का खुदा एक है, पैगंबर भी एक है, और कुरान भी. फर्क सिर्फ इतना है कि शिया मानते हैं कि पैगंबर मोहम्मद साहब का उत्तराधिकारी उनके दामाद हज़रत अली को होना चाहिए, और सुन्नी मानते हैं कि पैगंबर के साथी हज़रत अबू बक्र ही उनके सही उत्तराधिकारी हैं. 1,500 साल पुरानी विरासत के झगड़े से पैदा हुई दूरी ये लोग मिटाना चाहते हैं.

शोल्डर टु शोल्डर’ तहरीक के संस्थापक सदस्य और किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में डिपार्टमेंट ऑफ मेडिसिन के प्रोफेसर डॉक्टर कौसर उस्मान कहते हैं,”चार साल पहले जब हम लोगों ने यह तहरीक शुरू की थी, तब इसका नाम ‘शोल्डर टु शोल्डर’ रखा गया था.लेकिन इन चार सालों में इससे माहौल इतना अच्छा हुआ है कि इसका नाम भले ही ‘शोल्डर टु शोल्डर’ है, लेकिन इसका काम ‘हार्ट टु हार्ट’ है.

एक प्राइवेट कंपनी के एग्ज़ीक्यूटिव फहद महमूद कहते हैं, “लखनऊ में तमाम शिया-सुन्नी दं,गे हुए हैं, जिनमें तमाम लोगों की जानें भी गई हैं, लेकिन यह तहरीक दोनों फिरकों को पास लाई है, इसने माहौल में मोहब्बत घोली है.वक्त के साथ शिया और सुन्नी मुसलमानों के बीच मतभेदों में तमाम राजनैतिक, भौगोलिक और धार्मिक वर्चस्व के पहलू जुड़ते गए. लेकिन भारत में हालात काफी अलग हैं और यहां ऐसी कोशिशें अच्छे नतीजे दे सकती हैं.

शोल्डर टु शोल्डर’ तहरीक के आतिफ हनीफ कहते हैं, “हम लोग इसके रेस्पॉन्स से बहुत उत्साहित हैं.और अब यह प्लान कर रहे हैं कि इस तहरीक को दूसरी जगहों पर भी ले जाया जाए.इस नमाज़ में तमाम महिलाएं भी शामिल हुईं, और इसकी ख़बर सुन तमाम लोग इसे देखने भी पहुंचे.यहां नमाज़ देखने आईं लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल में क्लास 11 की छात्रा अनन्या गुप्ता कहती हैं, “यह आइडिया तो बहुत अच्छा है इसी तरह की कोशिशें हम लोगों को ठाकुर और ब्राह्मण के बीच भी करनी चाहिए।

RELATED ARTICLES

लंदन के टॉवर ब्रि,ज से अज़ा,न की आवाज सुन मुस्लिमों में खुशी की लहर, मुसलमानो ने कही बड़ी बात

अज़ान इस्लाम धर्म मे बहुत ही अच्छी चीज है ,ऐतिहासिक स्मारक, टॉवर ब्रिज में रमजान 2021 के अलविदे जुमे के उपलक्ष्य में पहली बार...

आसिफ अहमद के बिरयानी के ठेले को लेकर आई बड़ी खबर, नही थी उम्मीद,आज है इतने

चेन्नई: हम में से बहुत से लोग इस सिर्फ़ इसलिए आगे पढ़ाई जारी नहीं रख पाते क्योंकि उनके घर की मजबूरियाँ उनके आगे बाधा...

फिल्मों में बूढ़ी दिखने वाली यह 5 अभिनेत्रियां, रियल लाइफ में हैं बेहद ग्लैमरस –

ऐसी कई बार होता है जब एक एक्टर को अपनी उम्र से बड़े रोले करने पड़ते है खास कर एक्ट्रेसेस जिन्हे कभी कभी माँ...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

ऑटो वाले का बेटा अंसार अहमद बने IAS, हिन्दू नाम रख की थी तैयारी

मुंबई। सभी बाधाओं को पार करते हुए महाराष्ट्र के रहने वाले 21 वर्षीय मुस्लिम युवक ने संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा में...

इजरायल के खिलाफ खुलकर सामने आया मु’स्लिम देशों का संगठन OIC, देखिये किस नेता ने क्या कहा –

ईजरायल और फिलिस्तीन के चरमपंथी संगठन हमास के बीच हिंस'क झड़प बढ़ती जा रही है. पिछले सप्ताह शुक्रवार की रात यरुशलम की अल-अक्सा म'स्जिद...

पाकिस्तान PM इमरान खान और रेखा की प्रेम कहानी आयी दुनिया के सामने

क्रिकेटर्स और एक्ट्रेसेज के लव अफेयर कोई बड़ी बात नहीं है. ऐसे कई क्रिकेटर और एक्ट्रेसेज हैं जिनके प्रेम संबंध रहे हैं साथ ही...

ऑटो वाला बना फरिश्ता 15 हजार से अधिक लोगो को फ्री में पहुचाया अस्पताल

जैसा कि हम सभी को पता है कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है कोरोना संकट के इस दौर में जहां रोज अपने प्रियनों...

Recent Comments