VIDEO- RSS के कार्यकर्ता को खुलेआम हथकड़ी लगा कर निकाली रैली,जानिए वजह

360°

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का एक नया वीडियो सामने आया है। यह वीडियो केरल के मलप्पुरम जिले का बताया जा रहा है। वीडियो में साफ देखा जा रहा पीएफआई के लोगों ने कथित RSS कार्यकर्ताओं हथ,कड़ी पहनाकर बीच सड़क पर घुमा रहे हैं। हालांकि पीएफआई ने इस वीडियो को ड्रामा बताया है। पीएफआई के महासचिव अनीस अहमद ने कहा है कि यह रैली में शामिल लोगों द्वारा किया गया नाटक है।

इसका थीम 1921 में अंग्रेजों के खिलाफ की गई मापिला क्रांति से संबंधित है। यह मालाबार के लोगों के इतिहास को दर्शाता है, जिन्होंने 1921 में अंग्रेजों के खिलाफ लड़ा,ईयां लड़ी थी। इस नाटक को केरल के मल्लपुरम जिले की सड़क पर किया गया है। वीडियो में आप देख सकते हैं कि पीएफआई ने कैसे RSS की तुलना अंग्रेजों से की है।

वीडियों में देखा जा सकता है कि उन्होंने आरएसएस के वर्दी में लोगों को चेन से बांधा है और इसके साथ ही उन्होंने आंग्रेजों को भी चेन बाधा है। इस दौरान वह चेन बांधकर युवाओं के साथ रैली निकाल रहे हैं। इसके साथ ही वह पीछे से हाथों में लाठी-डंडे लिए हुए भी नजर आ रहे हैं।

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को PFI के महासचिव अहमद ने कर्नाटक में पॉपुलर फ्रंट डे 2021 पर एक सभा को संबोधित किया था, इस दौरान उन्होंने आरएएस के खिलाफ आस्था को लेकर विवादित बयान दिया था।

उन्होंने अपने संबोधन में कहा था कि “मैं सभी मुस्लिम व्यवसायियों और दुकान के मालिकों से यह कहना चाहता हूं कि यदि आपके पास थोड़ी सी भी हिम्मत है, तो इन सभी RSS के लोगों को एक भी रुपया न दें जो दान के लिए पूछ रहे हैं।

ऐसा इसलिए क्योंकि यह राम के लिए मंदिर नहीं है, यह RSS का मंदिर है और उसके लिए मुसलमानों के पैसे से एक भी ईंट नहीं लगनी चाहिए। गौरतलब है कि हाल ही में यूपी पुलिस ने पीएफआई के सदस्यों को गिरफ्तार किया था।

इन दोनों पर आरोप है कि वह बसंत पंचमी के अवसर पर हिंदू नेताओंं पर हम,ला करने के लिए आए थे। ये खबर रिपब्लिक भारत से ली गयी है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *