पाकि’स्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने दिया इस्तीफ़ा ? बड़े आरोप में घेरे गये –

World

पाकि स्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को चुनौतीपूर्ण ढंग से विपक्ष पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे अगर विपक्ष देश से चोरी किए पैसे को वापस कर दे। पाकिस्तान के जियो टीवी के मुताबिक PM इमरान ने कहा, ‘मैं कल इस्तीफा दे दूंगा अगर आप लूटे हुए पैसे को राजकोष में जमा कर दें।’ यही नहीं, उन्होंने विपक्ष को भी इस्तीफा देने की चुनौती दी है।

इमरान ने सीनेट चुनाव लड़ने के विपक्ष के फैसले की आलोचना की है। उन्होंने कहा, ‘न ही उन्होंने मार्च निकाला और न लोगों को जुटाने में सफल रहे। 31 दिसंबर और 31 जनवरी आई और चली गई।’ कुछ दिन पहले ही PM ने विपक्ष को चुनौती दी थी कि निर्वाचन आयोग को 1000 बैंक खातों की डीटेल दे। आयोग की कमिटी पीटीआई के खिलाफ विदेशी फंडिंग केस की जांच कर रही है।

खान ने कहा कि पार्टी ने 40 हजार बैंक अकाउंट की डीटेल जमा की है और दावा किया है कि जब जांच हो जाएगी तो सब साफ-साफ निकलेगा। इससे पहले दिसंबर में खान ने विपक्ष को उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की चुनौती दी थी।

भ्रष्टाचार को लेकर घेरे में ट्रांसपैरेंसी इंटरनैशनल के ताजा करप्शन पर्स्पेशन इंडेक्स (CPI 2020) में पाकिस्‍तान के चार स्‍थान और नीचे गिरने से देश में सियासत गरम हो गई है। कुल दुनिया के 180 देशों की इस रैंकिंग में पाकि स्तान 124वें स्थान पर है। भ्रष्‍टाचार के खात्‍मे का वादा करके सत्‍ता में आए इमरान खान के ‘नया पा किस्‍तान’ के और ज्‍यादा नीचे गिरने से सियासी माहौल गरम हो गया है।

हमलावर है विपक्ष पा किस्‍तान के विपक्षी दलों ने इमरान खान सरकार में देश के और ज्‍यादा भ्रष्‍ट होने पर जोरदार हमला बोला है। उन्‍होंने कहा कि पाकि स्‍तान वर्ष 2020 और वर्ष 2019 में 120वें स्‍थान पर था और अब यह 124वें स्‍थान पर पहुंच गया है। यही नहीं वर्ष 2018 से तुलना करें तो इमरान का नया पाकि स्‍तान 7 पायदान नीचे चला गया है। बिलावल भुट्टों की पार्टी पीपीपी की नेता शेरी रहमान ने इमरान खान पर निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि इमरान खान भ्रष्‍टाचार के खात्‍मे का दावा करते हैं लेकिन उनका दावा झूठा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *