इस गाँव मे पुरुष की मौ’त के बाद काट दिया जाता हैं औरतों का ये अंग

India

दुनिया में कई अजीबोगरीब परम्पराएं हैं जिनके बारें में हम सोच भी नहीं सकते। आज हम आपको एक ऐसी परंपरा के बारें में बताएंगे जो अविश्वसनीय हैं। दरअसल एक जनजाति की परंपरा हैं कि अगर इनके किसी पुरुष की मौ त हो जाती हैं तो उस घर की महिलाओं की अंगुलियां का ट दी जाती हैं। या तो महिलाएं खुद अपनी अंगुलियां का ट लेती हैं नहीं घर का कोई सदस्य जबर्दस्ती महिलाओं की

अंगुलियां का’ट देता हैं। यह जनजाति इंडोनेशिया के पश्चिमी न्यू गिनी में पाई जाती हैं। इस जनजाति के लोग पुराने रीतिरिवाजों को आज भी मानते है. इस जनजाति के लोगों का मानना हैं कि महिलाओं की अंगुली का’टने से से होने वाले दर्द से मरने वाले व्यक्ति की आत्मा को शांति मिलती हैं। किसी व्यक्ति के मर जाने पर उस

घर की महिलाओं की अंगुली ऐसे ही आसानी से नहीं का टी जाती हैं बल्कि महिलाओं की अंगुली का’टने से पहले आधे घंटे तक उनको बांधा जाता हैं। फिर अंगुलियों को का’ट कर जला दिया जाता हैं। बता दें इंडोनेशिया की सरकार ने इस प्रथा को बैन कर दिया हैं लेकिन अभी भी यहां के दूरदराज के इलाकों में ये दर्दनाक प्रथा चल रही हैं।

इसके अलावा इस जनजाति के लोग किसी घर के मुखिया की मृत्यु होने के बाद उसके घर की सभी महिला सदस्यों की अंगुलियां कुल्हा’ड़ी से काट दिया जाता हैं और यहीं नहीं उनके चेहरे पर कालिख और मिटटी का तेल पोतकर उन्हें सरेआम पूरे काबिले में शर्मिंदा भी किया जाता हैं। बता दें आज भी अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, भारत और इंडोनेशिया में कई ऐसी जनजातियां रहती हैं जो अपनी

हजारों साल पुरानी जीवन पद्धति को जारी रखे हुए हैं। इंडोनेशिया के पपुआगिनी द्वीप में रहने वाली दानी जनजाति में आज भी एक ऐसा रिवाज प्रचलित हैं। इस जानजाति की महिलाओं को किसी रिश्तेदार की मौत पर अपनी अंगुलियों के सिरे को काटना पड़ता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *