मुख्तार अंसारी को लेकर योगी सरकार ने राहुल,प्रियंका को घेरा, कही बड़ी बात

India

मुख्तार अंसारी को पंजाब के जेल से योगी सरकार को सौंपने में आ रही बाधाओं को लेकर योगी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोला है। सिंह ने राहुल और प्रियंका से सवाल किया है कि उन्हें मुख्तार अंसारी से इतनी सहानुभूति क्यों है?उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के प्रवक्‍ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कांग्रेस पार्टी पर गैंगस्‍टर से विधायक बने मुख्‍तार अंसारी को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए जमकर हम,ला बोला।

उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से इस संबंध में जवाब मांगा है। उन्होंने पूछा है कि कांग्रेस, प्रियंका और राहुल को मुख्तार अंसारी से इतनी सहानुभूति क्यों है?शुक्रवार को जारी एक बयान में सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा ‘दोहरापन कांग्रेस का चरित्र है और वह हर घटना को अपने चश्मे से देखती है।


राजनीतिक लाभ के लिए वह किसी का भी समर्थन कर सकती है, यहां तक कि देश और समाज के दुश्मनों का भी। दुर्दांत अपराधी मुख्तार अंसारी के मामले में कांग्रेस शासित पंजाब सरकार का रवैया इसका सबूत है।’ उन्होंने कहा कि देश के इतिहास में शायद ही कोई ऐसा उदाहरण मिले जिसमें किसी राजनीतिक दल की एक माफिया के प्रति इस कदर सहानुभूति उमड़ी हो कि उसकी पैरोकारी में वह सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच जाए।सिंह ने सवाल किया कि मुख्‍तार अंसारी के प्रति इतनी सहानुभूति क्‍यों हैं? राहुल और प्रियंका इसका जवाब दें।

बता दें कि पंजाब की रोपड़ जेल में बंद मुख्‍तार अंसारी को पंजाब की सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपने से इन्‍कार कर दिया है। पंजाब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा दाखिल कर विधायक अंसारी की बीमारी का हवाला देते हुए उसे उत्तर प्रदेश में पेशी पर भेजने से इनकार कर दिया। इस हलफनामे पर सुप्रीम कोर्ट में 8 फरवरी को सुनवाई है।सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ‘पूरा समाज जानता है कि मुख्तार क्या है और कितने लोग उसके जुल्म और ज्यादती के शिकार हुए हैं। मेरा कांग्रेस के साहबजादे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से सवाल है कि इस सहानुभूति की वजह क्या है।

उन लोगों के बारे में उनका क्या ख्याल है जिनका घर-परिवार मुख्तार के कारण उजड़ गया? मैं ही नहीं पूरा देश और समाज यह जानना चाहता है।’ उन्‍होंने कहा कि मुख्तार के बहाने उनकी (कांग्रेस) नजर वर्ग विशेष के वोट पर है पर उनके ये मंसूबे पूरे नहीं होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *