चुनाव खातिर मुसलमान नेताओं को खिलाई कु,रान की कसम,बीजेपी ने किया कांग्रेस पर प्रहा,र

360°

इंदौर में एक वायरल वीडियो ने शहर की राजनीति में तूफान ला दिया है। वीडियो में कांग्रेस के नेता मुसलमानों को निकाय चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार का समर्थन करने के लिए कुरान की कसम खिलाते दिख रहे हैं। हालांकि, बीजेपी के आरोपों पर कांग्रेस ने वीडियो को फर्जी करार दिया है।मध्य प्रदेश के इंदौर में एक वायरल वीडियो ने शहर की राजनीति में भूचाल ला दिया है।

वीडियो में कांग्रेस के नेता महापौर चुनाव में मुसलमानों से पार्टी उम्मीदवार का समर्थन करने के लिए कुरान की कसम दिलाते दिख रहे हैं। वीडियो के वायरल होने पर भड़की बीजेपी ने कांग्रेस पार्टी पर जोरदार हमला बोला है। वहीं, कांग्रेस नेता वीडियो को फर्जी बताकर विपक्षियों पर साजिश का आरोप लगा रहे हैं।जानकारी के मुताबिक घटना रविवार की है।

कांग्रेस ने नगर निकाय के चुनाव की तैयारियों को लेकर एक मीटिंग रखी थी। मीटिंग में पार्टी की ओर से पार्षद पद के कई उम्मीदवार भी मौजूद थे। मीटिंग अल्पसंख्यक इलाके में रखी गई थी जहां पर कांग्रेस के नगर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने खड़े होकर सभी मुस्लिम प्रत्याशियों को कसम दिलाई। मुसलमान नेताओं से कहा गया कि कांग्रेस पार्टी जैसे भी उम्मीदवार घोषित करेगी, उसे सभी एकमत से समर्थन देंगे।

बताया जा रहा है कि मीटिंग में इसको लेकर कुछ लोगों ने विरोध भी किया, लेकिन कांग्रेस ने इसे अंदरूनी तौर पर सुलझा लिया। इधर, सोमवार को इसका वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर हो गई। मध्य प्रदेश बीजेपी के प्रवक्ता उमेश शर्मा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस को मुसलमानों पर भरोसा नहीं है। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस मुसलमानों को गद्दार और धोखेबाज समझती है, इसलिए उन्हें कुरान की कसमें खिला रही है।बीजेपी के हमले के बाद कांग्रेस पार्टी भी बचाव में उतर आई है।

शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल ने मीटिंग में कुरान की कसम दिलाए जाने से इनकार किया है। बाकलीवाल ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को बदनाम करने के लिए इस तरह के वीडियो वायरल किए जा रहे हैं।कांग्रेस के इनकार के बावजूद बीजेपी इस मामले को लेकर आक्रामक रुख अपना रही है। शहर की राजनीति में आया तूफान इतनी जल्दी रुकता नहीं दिख रहा। अब देखना यह है कि बीजेपी के आरोपों से निपटने के लिए कांग्रेस क्या पैंतरा अपनाती है। नवभारतटीइम्स डॉट कॉम वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *