Home 360° मंसूर अब्बास की पार्टी इसराइल में बनी किंगमेकर ,अरब पार्टी बनाएगी यहूदी...

मंसूर अब्बास की पार्टी इसराइल में बनी किंगमेकर ,अरब पार्टी बनाएगी यहूदी देश मे पहली बार सरकार

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, वि,पक्ष के नेता येर लापिद ने राष्ट्रपति रूवेन रिवलिन से गुरुवार को सरकार गठन के लिए पर्याप्त समर्थन जुटाने की सूचना दी. इसके कुछ घंटे बाद इजरायली पत्रकार अंशेल फेफर ने ट्वीट किया, विश्वासमत होने तक के दिनों में चाहे जो कुछ भी हो, लेकिन ये एक ऐतिहासिक तस्वीर है. एक अरब-इजरायली नेता और एक यहूदी-राष्ट्रवादी पार्टी के नेता एक साथ सरकार में शामिल होने के समझौते पर हस्ताक्षर कर रहे हैं. इस ट्वीट के साथ उन्होंने एक तस्वीर को साझा किया. इसमें यामिना पार्टी के दक्षिणपंथी नेता नेफ्ताली बेनेट के साथ अरब पार्टी, रा’म (Ra’am) के प्रमुख मंसूर अब्बास नजर आ रहे हैं. इसके अलावा सेंट्रिस्ट यश अतीद के येर लापिद भी इसमें शामिल हैं.

कौन हैं मंसूर अब्बास?
यूनाइटेड अरब लिस्ट या रा’म पार्टी के प्रमुख डॉक्टर मंसूर अब्बास पेशे से एक डेंटिस्ट हैं. उनका जन्म इजरायल के उत्तरी हिस्से में हुआ था. अपनी युवावस्था से ही वो राजनीति में सक्रिय हो गए. इसके अलावा, वह हिब्रू यूनिवर्सिटी में अरब छात्र समिति के अध्यक्ष भी रह चुके हैं. एक राजनेता होने के साथ-साथ अब्बास अभी भी पढ़ाई कर रहे हैं. वर्तमान में अब्बास हाइफा यूनिवर्सिटी में राजनीति विज्ञान में मास्टर डिग्री हासिल करने के लिए पढ़ाई कर रहे हैं. मंसूर अब्बास इस्लामी आंदोलन की शाखा के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं.

इजरायल के उत्तरी हिस्से से आने वाले अब्बास की पकड़ देश के दक्षिणी हिस्से में भी है. यही वजह रही कि इस बार इजरायल में हुए चुनाव में अब्बास की पार्टी रा’म को दक्षिणी हिस्सों में लोगों का जनसमर्थन मिला. इस तरह उनकी पार्टी ने उन सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए संसद में स्थान बनाया. बता दें कि इजरायली चुनाव नियमों के अनुसार, संसद में शामिल होने के लिए किसी भी पार्टी को न्यूनतम 3.25 फीसदी वोट हासिल करना होता है.

सिंद्धातवादी नेता हैं मंसूर अब्बास
इजरायल की राजनीति में अब्बास की पहचान एक सि’द्धांतवा’दी नेता के तौर पर होती है. उनके करीबियों का कहना है कि सौम्य स्वभाव वाले अब्बास अपने सैद्धांतिक मूल्यों पर अडिग रहते हैं. इसके लिए वह किसी भी कीमत को चुकाने के लिए तैयार होते हैं. अब्बास इस बात पर यकीन रखते हैं कि अगर इजरायल में अरब आबादी का विकास करना है तो इसके लिए उनके मुख्यधारा के नेता को यहूदी पार्टी के साथ हाथ मिलाना होगा. चुनाव के दौरान अब्बास के द्वारा इस बयान को खुलकर कहने पर अरब नेताओं ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया.

चुनाव के दौरान वोटों को बंटने से रोकने के लिए अरब पार्टियां मिलकर चुनाव लड़ती है. लेकिन अब्बास के बयान को लेकर बाकी की अरब पार्टियों ने आखिरी चुनाव में उनकी पार्टी को गठबंधन में शामिल करने से इनकार कर दिया. वहीं, अब्बास ने भी पूरी तैयारी की हुई थी. चुनावी प्रचार शुरू करने के पहले ही डॉक्टर अब्बास ने घोषणा कर दी कि उनकी पार्टी संसद में चुने जाने पर किसी भी मुख्यधारा की यहूदी पार्टी के साथ काम करने को तैयार है, जो अरब लोगों की तरक्की के लिए उनकी शर्तों को मानने के लिए राजी हो जाए.यह खबर tv9 से ली गयी है।

RELATED ARTICLES

वैज्ञनिकों के अनुसार ये है दुनिया की सबसे सुंदर महिला, देखें कैली ब्रुक की विशेष तस्वीरें

एक वैज्ञानिक सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष निकाला गया है कि केली ब्रुक का चेहरा और शरीर दुनिया में सबसे सुंदर है. वह ना ही...

गार्ड चाहिए, सैलरी 30000 , रहना खाना। फोटो दबाकर नम्बर लें

Bisleri कंपनी में भर्ती मिल रहा है बढ़िए मौका सैलरी 35000कोई भी अप्लाई कर सकता है अप्लाई करने के लिए सबसे नीचे जाइये पति भगवान्...

ज़ाहिद कुरैशी अमेरिकी जज बनने वाले पहले मुस्लिम

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

वैज्ञनिकों के अनुसार ये है दुनिया की सबसे सुंदर महिला, देखें कैली ब्रुक की विशेष तस्वीरें

एक वैज्ञानिक सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष निकाला गया है कि केली ब्रुक का चेहरा और शरीर दुनिया में सबसे सुंदर है. वह ना ही...

गार्ड चाहिए, सैलरी 30000 , रहना खाना। फोटो दबाकर नम्बर लें

Bisleri कंपनी में भर्ती मिल रहा है बढ़िए मौका सैलरी 35000कोई भी अप्लाई कर सकता है अप्लाई करने के लिए सबसे नीचे जाइये पति भगवान्...

सवाल यदि कोई 18 साल की लड़की ढीले-ढाले कपड़े पहन आपके आगे झुक के प्रणाम करे तो सबसे पहले आपको क्या दिखेगा?

आपको बताते चलें कि देश के अधिकांश युवा वर्ग आज आईएएस आईपीएस की तैयारियों में जुटा हुआ है लेकिन आईएएस आईपीएस अधिकारी बनना इतना...

ज़ाहिद कुरैशी अमेरिकी जज बनने वाले पहले मुस्लिम

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है।...

Recent Comments