भगवान भोलेनाथ का जल अभीषेक कर चर्चाओं में आईं IAS अफसर इनायत खान, लोग कर रहे हैं ऐसे कमेंट

360°

आगरा की IAS अफसर बिटिया इनायत खान उस वक़्त चर्चा में आई थी जब उनकी तारीफ पीएम मोदी के लेकर देशभर के कई लोगों ने की थी। 2012 बिहार कैडर की IAS अधिकारी इनायत खान इन दिनो एक बार फिर चर्चा में हैं। अररिया में बतौर DM तैनात इनायत जिले के कुर्साकांटा प्रखंड में चल रहे विकास कार्यों का जायजा लेने पहुंचीं। इसी दौरान उन्होंने ऐतिहासिक सुंदरीधाम की तरफ कदम बढ़ा दिए। यहां इनायत ने भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करते हुए पूजा-अर्चना भी की। वहीं, उन्होंने मंदिर के इतिहास के बारे में पुजारी सिंहेश्वर गिरी से पूरी जानकारी ली।

हाल ही में शेखपुरा से इनायत का ट्रांसफर अररिया जिले में हुआ है। नव पदस्थापित डीएम ने मंदिर के सौंदर्यीकरण कार्य भी जायजा लिया। इस दौरान उन्हें देखने और सुनने की जिज्ञासा लोगों में काफी देखी गई। प्रशासनिक महकमा भी काफी सक्रिय दिखा। DM के रूप में योगदान करने के बाद शनिवार को पहली बार कुर्साकांटा पहुंची और प्रखंड क्षेत्र का दौरा किया। उन्होंने बकरा नदी पर बन रहे पड़रिया घाट पर पुल जो कुर्साकांटा एवं सिकटी प्रखंड को जोड़ने वाला मुख्य मार्ग का निरीक्षण किया। उन्होंने कटान स्थलों का निरीक्षण किया।

इस दौरान बीडीओ रेखा कुमारी एवं CEO श्यामसुंदर से भी डीएम इनायत खान ने विभिन्न विषयों के बारे में पूछताछ की। डीएम ने जनकल्याणकारी योजनाएं चलायी जा रही हैं, उनमें पारदर्शिता के साथ उनका क्रियान्वयन करने का निर्देश साथ चल रहे बीडीओ को दिया। सीमा सड़क का अवलोकन कर वस्तुस्थिति के बारे में जानकारी ली। कुर्साकांटा में नवनिर्मित मछली शेड का भी निरीक्षण किया। फिर प्रखण्ड मुख्यालय में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

 

नव पदस्थापित जिलाधिकारी इनायत खान ने सिकटी प्रखंड के दहगामा ईदगाह टोला के निकट नूना नदी के निर्माणाधीन तटबंध का जायजा भी लिया। जिलाधिकारी ने बताया कि योगदान लेने के बाद क्षेत्र का मुआयना करने आयी हूं, पता चला है कि पिछले बार नूना नदी में 16 बार बाढ़ आयी थी। जिससे लगभग आध दर्जन गांव का जन जीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया था। वहीं नूना नदी के धारा परिवर्तन स्थल पर तटबंध निर्माण कार्य चल रहा है। जिलाधिकारी ने बताया कि तटबंध का निर्माण कार्य सही ढंग से हो इसके लिए जल निस्सरण विभाग को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है।

इनायत खान ने बताया कि तटबंध का जायजा लेने के दौरान ग्रामीणों ने बताया कि सैदाबाद पुल से लेकर दहगामा तक भी तटबंध का स्थिति काफी खराब है। इसके अलावा घोड़ा चौक, सिघिया तटबंध का भी स्थिति खराब होने की जानकारी ग्रामीणों ने दी।उन्होंने कहा कि इसके बारे में भी जल संसाधन विभाग से बात की जायेगा। इसके अलावा जिलाधिकारी ने बकरा नदी के तीरा व पडरिया घाट का भी जायजा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *