कपिल मिश्रा ने दिया किसान आंदोलन पर गन्दा बयान,कपिल मिश्रा आपसे बस इतनी ही उम्मीद थी

360°

किसान आंदोलन जोर-शोर से आगे बढ़ रहा है, जैसा कि हम सभी जानते हैं कि किसान अपने हक की लड़ाई के लिए कई महीनों से धरने पर बैठे हुए हैं और वह लगातार आंदोलन कर रहे हैं इसी बीच कई लोग अपनी अपनी राय भी रख रहे हैं जिसमें कि मीडिया सबसे आगे हैं, वही कई बॉलीवुड सितारे भी किसान आंदोलन को गलत ठहरा रहे हैं हैं,

वहीं कई बड़ी हस्तियां हॉलीवुड से हैं उन्होंने अपना समर्थन किसान आंदोलन को देखते हुए उनके पक्ष में बयान दिया है जिसके बाद किसान आंदोलन के विरोधियों ने उन पर भी ह,मला बोल दिया इसमें सबसे ऊपर है मीडिया कर्मी कपिल मिश्रा.इस नाम से ही आप समझ गए होंगे कि इनकी भाषा और दूसरों के लिए उपयोग की गई भाषा कैसी होती हैं.

कपिल मिश्रा.‘देश के गद्दारों को, गो,ली मा,रो * को’ नारा लगाने वाले घटिया और भड़काऊ बयान अक्सर उनके मुँह से सुनने को मिलते हैं, घटिया नेताओं की कोई लिस्ट बनाई जाए, तो उनका नाम सबसे ऊपर होगा, कपिल मिश्रा आए दिन अपनी टि्वटर हैंडल पर कुछ ना कुछ ऐसा परोसते रहते हैं, जो देश की एकता के लिए गलत है.किसान आंदोलन को जब रिहाना, ग्रेटा, मीना और मिया खलीफा जैसी हस्तियों का समर्थन मिला, तो तमाम ट्रोल्स की तरह कपिल मिश्रा भी उन पर टूट पड़े.

उन्होंने कुछ ऐसे ट्वीट किए, जिससे उनके और किसी बेहद घटिया किस्म के ट्रोल के बीच का फर्क मिट गया. इन विदेशी हस्तियों को नीचा दिखाने के लिए कपिल मिश्रा ने वही तरीका अपनाया, जो औरतों के चुप कराने के लिए उनकी जैसी मानसिकता वाले लोग अपनाते हैं.जैसा कि अक्सर औरतों के साथ किया जाता है उन्हें चुप कराने के लिए यादव ने मारपीट आ जाता है या फिर उनके चरित्र पर उंगली उठा दी जाती है कपिल मिश्रा जैसे सभी इंसान ने भी अपनी सभ्यता और इसका नमूना दिखाते हुए इन कलाकारों पर अपनी भद्दी टिप्पणियां की।

हालांकि इस बहादुरपुर उसने थोड़ीजहां हमारे देश में औरतों को देवी माना जाता है उस देश के नागरिक होने के बाद इस तरह का ट्वीट करना कपिल मिश्रा को क्या शोभा देता है?एक ऐसे देश में जिसकी संस्कृति में अजंता और एलोरा की मूर्तियों और कामसूत्र जैसे ग्रंथ की छाप है, वहां इसे अपवित्रता से जोड़ना क्या सही है. और अगर संस्कृति को जाने दें, तो भी क्या सेक्स करना और अपनी सेक्सुअलटी प्रदर्शित करना कोई अपराध है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *