अमित शाह की करीबी,बंगाल भाजपा नेता जूही चौधरी बच्चों की तस्क,री में गिरफ़्तार,जानिए पूरा सच

360°

पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव के लिए हो रही तैयारियों ने रफ्तार पकड़ ली है. इस बार बीजेपी, बंगाल जीतने के लिए पूरी ताकत झोंकती हुई नजर आ रही है. इसी बीच सोशल मीडिया पर एक अखबार की कटिंग जमकर शेयर की जा रही है. इसके जरिये दावा किया जा रहा है कि गृह मंत्री अमित शाह की करीबी और बंगाल बीजेपी की एक नेता जूही चौधरी बच्चों की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार हुई हैं.

‘पत्रिका’ अखबार की इस कटिंग में बताया गया है कि जूही चौधरी बीजेपी महिला मोर्चे की महासचिव थीं और उन्हें पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी से गिरफ्तार किया गया है. साथ ही, पोस्ट में अमित शाह की एक फोटो भी है  जिसमें उनके नजदीक एक महिला खड़ी दिख रही है. इस तस्वीर के जरिये पोस्ट में ऐसा दिखाने की कोशिश की गई है कि ये महिला जूही चौधरी ही है. 

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि पोस्ट में किया गया दावा पूरी तरह से सही नहीं है. ये बात सच है कि बीजेपी नेता जूही चौधरी बच्चों की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार हुईं थीं, लेकिन ये मामला मार्च 2017 का है, अभी का नहीं. इसके अलावा पोस्ट में अमित शाह वाली तस्वीर में दिख रही महिला जूही चौधरी नहीं बल्कि हाल ही में ड्र,ग्स रखने के मामले में गिरफ्तार हुईं बंगाल बीजेपी कार्यकर्ता पामेला गोस्वामी हैं.

पोस्ट के कैप्शन में लिखा है “अमित शाह की करीबी,बंगाल भाजपा नेता जूही चौधरी बच्चों की तस्करी में गिरफ़्तार.फेसबुक पर कुछ लोग सिर्फ न्यूज कटिंग को शेयर करते हुए लिख रहे हैं “टिकिट खरीदना है चुनाव लड़ना है उसके लिए पैसे तो चाहिए बिजनिस सारे ठप्प पड़े है इसलिए अब आपके बच्चे भी बेचे जा रहे है. कैसे पता की सच्चाई?  न्यूज कटिंग में लिखी खबर को कुछ कीवर्ड्स की मदद से खोजने पर हमें इसको लेकर मार्च 2017 में प्रकाशित हुईं कई रिपोर्ट्स मिलीं. रिपोर्ट्स के अनुसार पश्चिम बंगाल सीआईडी ने जूही चौधरी को 1 मार्च 2017 को भारत-नेपाल बॉर्डर के पास से गिरफ्तार किया था. उन पर कम से कम 17 बच्चों की तस्करी में संलिप्त होने का आरोप था. इस मामले में कुछ और लोग भी गिरफ्तार हुए थे.    

गिरफ्तारी के समय जूही चौधरी बंगाल में बीजेपी महिला मोर्चे की महासचिव थीं. इस मामले के खुलासे के बाद जूही को इस पद से  
हटा दिया गया था. तस्करी के इस केस में बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और बीजेपी सांसद रूपा गांगुली का नाम भी उछला था और दोनों से पुलिस ने पूछताछ भी की थी. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *