इरफ़ान पठान ने टीम इंडिया को पहुचाया फाइनल में, सचिन ने कही बड़ी बात –

Sports

महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर (Sachin Tendulkar) और टीम इंडिया के पूर्व मीडियम पेसर इरफान पठान (Irfan Pathan) फिलहाल रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में एक ही टीम से खेल रहे हैं। सचिन इंडिया लेजेंड्स के कप्तान हैं तो इरफान उनकी टीम के अहम सदस्य। इंडिया लेजेंड्स ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए बुधवार को विंडीज लेजेंड्स को हराकर इस सीरीज के फाइनल में जगह बना ली। जीत के बाद इरफान ने बताया कि कैसे सचिन ने उन्हें एक ‘मंत्र’ दिया था जिससे उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिली।

इंडिया लेजेंड्स ने रायपुर में खेले गए रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज के पहले सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज लेजेंड्स को 12 रनों से हराया और फाइनल में जगह बना ली। कैप्टन सचिन (65) की शानदार पारी के दम पर इंडिया टीम ने 3 विकेट पर 218 रन बनाए जिसके बाद वेस्टइंडीज लेजेंड्स टीम 6 विकेट पर 206 रन ही बना सकी।

सचिन ने इस मैच में इरफान पठान को पहले ओवर के लिए गेंद थमाई लेकिन वह कुछ दिशा से भटके से नजर आए और पांच वाइड समेत कुल 19 रन इस ओवर में बने। विलियम पर्किन्स ने दूसरी ही गेंद पर चौका लगाया जिसके बाद इरफान ने चौथी और 5वीं गेंद डालने में ही 5 वाइड फेंक दी। इरफान ने इसे अपने करियर का सबसे खराब ओवर बताया।

इसके बाद सचिन ने उन्हें एक बात कही जिसे इरफान ने सोशल मीडिया पर भी शेयर किया। इरफान ने लिखा, ‘सिर्फ एक खराब ओवर की वजह से आप पर मेरा भरोसा खत्म नहीं हो सकता। आप हमारे लिए मैच जीतोगे..’ सचिन तेंडुलकर के ये शब्द थे मेरे करियर के सबसे खराब ओवर के बाद। फिर शानदार जीत।’

इरफान इस मैच में काफी महंगे साबित हो रहे थे लेकिन सचिन ने अंतिम ओवर करने के लिए भी इस मीडियम पेसर को गेंद थमाई। आखिरी ओवर में वेस्टइंडीज लेजेंड्स को जीत के लिए 17 रन चाहिए थे लेकिन इरफान के इस ओवर में केवल 4 रन गए और नरसिंह (59) रन आउट भी हुए। इरफान ने इस मैच में 48 रन दिए और एक विकेट झटका। सचिन को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *