मज़ा नहीं, सज़ा होता है हॉलीवुड एक्टर्स के लिए से-क्स सीन शूट करना

360° Lifestyles

दुनिया की फिल्मों में S सीन्स आम हो गए हैं. जहां हॉलीवुड में पूर्ण न ग्नता दिखाई जाती है, वहीं बॉलीवुड अभी भी इस मायने में पीछे है. लेकिन ये न समझियेगा कि हॉलीवुड है तो सब चलता है. जिन लोगों के साथ आपके सिर्फ पेशेवर संबंध हैं, उन लोगों के साथ ऐसे अंत रंग सीन शूट करना बहुत मेहनत और संकोच का काम है. आप भी कई बार ज़रूर सोचते होंगे कि आखिर एक्टर्स, जो शायद एक-दूसरे के साथ पहली बार काम कर रहे हैं, ऐसे सीन्स कैसे कर लेते होंगे. जानते हैं कुछ हॉलीवुड फ़िल्म प्रोफेशनल्स से, जिन्होंने क्योरा पर बताया कि ऐसे S सीन्स शूट करते समय कुछ एक्टर्स की क्या प्रतिक्रिया थी.

1. विक्टोरिया विल्सन S सीन शूट करते समय इरेक्शन होना आम बात है, लेकिन कुछ एक्टर्स डिमांड करते हैं कि उनके L पर टेप लगा दिया जाए या किसी स्लीव से बांध दिया जाए. वैसे भी कैमरामैन, लाइट दादा और क्रू के सामने उत्तेजित होना मुश्किल ही है.

2. सईद अकरामा हॉलीवुड अभिनेता, माइकल फॉस्बेंडर के साथ एक फ़िल्म में काम करने वाले सईद अकरामा ने बताया कि माइकल के लिए S सीन्स शूट करना अजीब होता था. दूसरे व्यक्ति को ऐसा नहीं लगना चाहिए कि आप उनका फायदा उठा रहे हैं. वो हंसी-मज़ाक कर के मूड को हल्का करने की कोशिश करते थे और जब पार्टनर कम्फ़र्टेबल हो जाता था, तब सीन शूट करते थे.

हॉलीवुड अभिनेत्री, मीला कुनिस का मानना है कि कोई एक्टर चाहे ही आपका कितना अच्छा दोस्त क्यों न हो, सैकड़ों क्रू मेंबर्स के सामने S सीन शूट करना आसान काम नहीं है.

3. रसल स्टीवर्ट ऑस्कर अवॉर्ड विजेता फ़िल्म, डैलस बायर्स क्लब के निर्देशक, Jean-Marc Vallée का कहना था कि जितनी भी फ़िल्में उन्होंने शूट की हैं, उन्होंने कभी किसी एक्टर को इरेक्शन के साथ नहीं देखा. इसका मतलब ये नहीं कि वो उत्तेजित नहीं होते. आखिर इंसान होने के नाते अगर आप अं तरंग होंगे, तो उत्तेजना होना सामान्य है.

4. एड्रिअन लीन Indecent Proposal, Unfaithful और Fatal Attraction जैसी उत्ते जक फ़िल्में बनाने वाले एड्रिअन का मानना है कि एक्टर्स के लिए उत्तेजित होना बहुत ज़रूरी है, नहीं तो सीन में वास्तविकता नहीं आएगी. Fatal Attraction के समय माइकल डगलस और ग्लेन क्लोज़ को शैम्पेन और मार्गरीटा पिला कर थोड़ा कम्फ़र्टेबल किया था.

5. के ब्यर्ड कई एक्टर्स के लिए S सीन शूट करना बहुत ही मुश्किल काम होता था. एक अभिनेत्री ने बताया कि ब्रूस विलिस के साथ ऐसे सीन शूट करना बहुत शर्मनाक था. वो कभी भी फार्ट कर देते थे और कंबल के नीचे से उन्हें गुदगुदी करते. लेकिन इससे थोड़ा कम्फर्ट लेवल बन जाता.

जिन सीन्स को हम अपने कमरों में बंद हो कर एन्जॉय करते हैं, उन्हें शूट करने में एन्जॉयमेंट तो नहीं, पसीने ज़रूर निकल जाते हैं इन एक्टर्स के. इसीलिए कहते हैं कि ‘एक्टिंग’ आसान काम नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *