छोटे कद के बावजूद रूबी ने हासिल की बड़ी कामयाबी, लोगों के तानों को ताकत बनाया और बनीं एडवोकेट

Education

हर व्यक्ति अपने जीवन में एक पहचान बनाना चाहता है और उसकी पहचान होती है उसके ओहदे से। कद से ज़्यादा व्यक्ति का पद मायने रखता है। चाहे हम कैसे भी दिखते हों, हमारा फैमिली बैकग्राउंड कैसा भी हो, या फिर शारीरिक बनावट कैसी भी हो, इन सब बातों से ज़्यादा मायने रखता है कि हम अपने लक्ष्य को पाने के लिए कितनी मेहनत और लगन से अपने कार्य रहे हैं।

यही सोच रख कर हरियाणा की एक छोटे कद की लड़की ने वकील बनकर नाम कमाया, उन्होंने अपने कद को कामयाबी के रास्ते में रोड़ा नहीं बनने दिया। हालांकि लोगों ने उन पर ख़ूब फब्तियाँ कसी और बहुत मज़ाक बनाया पर इन सब बातों को दरकिनार कर उन्होंने पूरे हौसले के साथ अपने लक्ष्य पर ही नज़र साधी। इन महिला वकील का नाम है हरविंदर कौर जो जालंधर कोर्ट की वकील हैं, चलिए जानते हैं इनकी पूरी कहानी…

हरियाणा में रामामंडी की रहने वाली 24 वर्षीय हरविंदर कौर उर्फ रुबी की हाइट 3 फुट 11 इंच है। उन्होंने बताया कि जब वे बहुत छोटी थी, तभी से उन्होंने एयर होस्टेस बनने का सपना देखा था, परंतु उनकी हाइट कम होने की वज़ह से एयर होस्टेस बनने का उनका सपना अधूरा रह गया था। दरअसल हरविंदर की हाइट ग्रोथ बचपन से ही बहुत धीमी थी। उन्होंने बहुत से चिकित्सकों से अपना इलाज़ भी करवाया और मेडिटेशन थेरेपी इत्यादि भी कराई लेकिन इन सब का उन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा, इसलिए उन्होंने एयर होस्टेस बनने के बारे में छोड़ दिया।

हरविंदर का कद छोटा होने की वज़ह से अक्सर लोग उनका मज़ाक उड़ाया करते थे और बहुत तरह के ताने भी देते थे। उनसे कहा जाता था कि उनसे यह नहीं होगा। इस प्रकार से लोगों के ताने और उनकी बातों को नजरअंदाज करके उन्होंने सोच लिया था कि अब वे जीवन में कुछ बनकर दिखाएंगी। इसके बाद उन्होंने 12कक्षा पुर करके फिर वकालत करने का सोचा।

हरविंदर कौर बताती हैं कि पहले जब लोग उनका मज़ाक उड़ाते थे तो वे बहुत परेशान हो जाती थी और नकारात्मक विचारों से घिर जाती थीं। एक बार तो वे इन सब से इतना तंग आ गई थीं कि वह रूम में बंद होकर रहने लगी और उनके मन में म,रने का भी विचार आने लगे थे। उन्हें लगा जैसे उनकी ज़िन्दगी बोझ बन गई है। फिर जब उन्होंने कॉलेज में एडमिशन लिया उस समय उनके जीवन में परिवर्तन आया और वे पॉजीटिव रहने लगीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *