बिना परीक्षा दिए IAS बन गई लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की बेटी? जानिए सच्चाई

360°

सोशल मीडिया पर लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला की बेटी को लेकर एक दावा किया जा रहा है, कहा जा रहा है कि ओम बिड़ला की बेटी बिना परीक्षा दिए ही IAS बन गई है और उन्हें यह जगह आरक्षित कोटे में से किसी कैंडिडेट को हटा कर दी गई है. फेसबुक से लेकर सोशल मीडिया पर ऐसे दावों की भरमार है सोशल मीडिया यूजर्स अपने-अपने तरीकों से ओम बिरला की बेटी पर तंज कस रहे हैं.

एक यूजर ने ऐसा ही दावा करते हुए लिखा अब IAS की काबिलियत से नहीं बल्कि रसूख से बनेंगे यह वाकई चिंता का विषय है! नई IAS साहिबा बिना परीक्षा दिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भाजपा वाले की पुत्री जिन्हें आरक्षित कोटे में से किसी को हटाकर जॉइनिंग दे दी गई है.

जब हमने इस बात की पड़ताल करनी शुरू की तो हमें पता चला कि सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा फर्जी है. लोकसभा स्पीकर ओम बिर’ला की बेटी अंजलि बिड़ला साल 2019 में यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा में शामिल हुई थी उनका चयन परीक्षा के रि’जल्ट के आधार पर ही हुआ है.

मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार लोकसभा स्पीकर ओम बि’रला की बेटी अंजलि बिड़ला ने साल 2019 में सिविल सेवा परीक्षा के अपने पहले ही प्रयास में सफलता हासिल की थी.

परीक्षा का रिजल्ट 4 अगस्त 2020 को घोषित किया गया था इसमें कुल 927 वैकेंसी के लिए 829 कैंडिडेट्स के रिजल्ट जारी किए गए थे। बचे हुए 98 सीटों पर UPSC ने 5 जनवरी 2021 को अपनी आरक्षित सूची में से 89 कैंडिडेट के नाम जारी किए हैं.

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की बेटी अंजलि बिरला को लेकर सोशल मीडिया पर हो रहा दावा फर्जी निकला. आपको बता दें कि अंजलि 2019 में यूपीएससी की परीक्षा में शामिल हुई थी। उनका नाम मेन मेरिट लिस्ट में नहीं आया था.

लेकिन बचे हुए 98 सीटों पर UPSC ने 5 जनवरी को रिजल्ट जारी किए. इसमें अंजली का नाम है इस आधार पर उन्हें सिविल सेवा के लिए चुना गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *