एर्दोगान का फ़ैसला- ‘अर्तुरुल गाज़ी’ की मजार के करीब मिले सोने को तुर्की –

World

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन ने शनिवार को एक उद्घाटन समारोह के दौरान अपने भाषण में कहा, “मुझे उम्मीद है कि हम 2 साल में अपना सोना खदान से निकाल लेंगे।”बता दें कि तुर्की ने सोगुत में ‘अर्तुरुल गाजी’ के दफन स्थल से 99 टन सोने की खोज की है। मंगलवार को तुर्की के मंत्री ने घोषणा कर ये जानकारी दी थी।

लगभग 3.5 मिलियन औंस सोने का ये भंडार लगभग 6 बिलियन डॉलर (टीएल 46 बिलियन) का है। तुर्की कृषि साख सहकारी समितियों के महाप्रबंधक और गुब्रेटा के चेयरपर्सन फहार्टिन पोरेज ने कहा, ” हम 6 बिलियन डॉलर के मूल्य के बारे में बात कर रहे हैं।

उन्होने कहा कि “दो साल के भीतर, हम पहला सोना निकालेंगे और तुर्की अर्थव्यवस्था में मूल्य लाएंगे।” उन्होंने कहा, “यह अनुमान है कि 1.6 मिलियन औंस सोने को 83% की दर से भंडार में परिवर्तित किया जा सकता है।”

वहीं ऊर्जा मंत्री फरहत अल्टिन ने कहा था कि तुर्की ने 2019 में 38 टन सोने का उत्पादन करके रिकॉर्ड तोड़ने की घोषणा की। उन्होंने कहा, “अगले पांच वर्षों के लिए हमारा लक्ष्य सालाना 100 टन सोने के उत्पादन तक पहुंचने का है।”

बता दें कि ‘अर्तुरुल गाजी’ ओटोमन साम्राज्य के संस्थापक उस्मान के पिता थे। वह खुद एक बड़े यौद्धा थे। उन पर बनी सीरीज पूरी दुनिया में देखी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *