Home 360° डॉ कफील पर फिर टूटा गमो का पहाड़,किसी को नही थी उम्मीद,बताया...

डॉ कफील पर फिर टूटा गमो का पहाड़,किसी को नही थी उम्मीद,बताया हिस्ट्रीशीटर

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृहजनपद गोरखपुर में पु,लिस ने जिले के पेशेवर अपरा,धियों की सूची तैयार कर उन पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। पु,लिस ने जिले के 81 हिस्ट्रीशीटरों की सूची जारी की है। इन हिस्ट्री,शीटरों में डॉ. कफील खान का नाम टॉप टेन लिस्ट में शामिल है,

जिसके बाद उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए सरकार की ओर से निर्दोषों को टारगेट करने की बात कही।यूपी पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए पुलिस ने बद,माशों की सूची तैयार करते हुए उनपर निगरानी रखनी शुरू कर दी है। बता दें जिले में अभी तक 1462 हिस्ट्री,शीटर थे, 81 नए नाम और जुड़ने से अब उनकी संख्या 1543 हो गई है।

बीते दिनों डीआईजी/ एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने सभी थानेदारों को पेशेवर हिस्ट्री,शीटर की हिस्ट्री,शीट खोलने का निर्देश दिया था, जिसके बाद सक्रिय हुए था,नेदारों ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज के डॉ. कफील खान सहित 81 बद,माशों की हिस्ट्री खोली।अगस्त 2017 में ऑक्सिजन की कमी से बच्चों की मौ,त के बाद चर्चा में आए बसंतपुर निवासी डॉ. कफील आरोपी बनाए गए थे। इस दौरान राजघाट पु,लिस ने उनकी हिस्ट्री,शीट खोली है।

हालांकि, इस मामले में डॉ. कफील ने सरकार को घेरते हुए कहा है, ‘उत्तर प्रदेश में अपरा,धियों पर निगरानी नहीं की जा रही है और जो बेगुनाह है उनकी हिस्ट्रीशीट खोली गई है। अच्छा है, मुझे दो सिक्यॉरिटी गार्ड दे दो। 24 घंटे निगरानी रखो ताकि फर्जी केसों से तो बच सकूं। जबसे एनएसए की कार्रवाई से बाहर आया हूं। हर महीने सरकार को पत्र लिखता हूं कि मेरी नौकरी वापस कर दो।’ वहीं, उनके भाई डॉ. आदिल का कहना है कि सरकार डॉ. कफील को टारगेट कर जेल में डालना चाहती है।त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को नजदीक आते देख पुलि,स ने हर गांव से बदमा,शों को चिह्नित किया है।


300 बद,माशों पर गुंडा ऐक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। वहीं, जमानत पर छूटे बद,माशों पर निगरानी बढ़ाते हुए दोबारा जे,ल में डालने की तैयारी कर रही है। कोत,वाली थाने से 3, राजघाट से 1, कैंट थाने से 5, रामगढ़ताल से 5, खोराबार से 3, तिवारीपुर थाने से 6, शाहपुर से 2, सहजनवां से 4, कैंपियरगंज से 3, चिलुआताल से 1, चौरीचौरा से 5, झगहां से 1, पिपराइच से 5, गुलरिहा से 7, बांसगांव से 2, गगहा से 1, बेलीपार से 5, गोला से 3, बड़हलगंज से 7, उरुवा से 4, बेलघाट से 1, खजनी से 5 और सिकरीगंज के 2 बदमा,शों की पुलि,स ने हिस्ट्री,शीट खोली है।

इन हिस्ट्री,शीटरों में राजघाट के डॉ. कफील, कोतवाली के अंकित कुमार शर्मा, चंदन, एहतेशामखान, तिवारीपुर थाने के आशीष पासवान, गणेश गौड़, विशाल निषाद, अजीत यादव, महताब और अजमत उल्लाह का नाम जिले के टॉप टेन बदमाशों की सूची में शामिल हैं। उधर, डीआईजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने बताया कि पंचायत चुनाव को देखते हुए सभी थानेदारों को अपने-अपने था,नों के बदमाशों की हिस्ट्री,शीट खोलने का निर्देश दिया गया था। इस दौरान 81 बद,माशों की हिस्ट्री,शीट खोली गई।

RELATED ARTICLES

आयशा सुल्ताना के खि’ला’फ देश’द्रो’ह का के’स लगा तो bjp नेताओ ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली. लक्षद्वीप में स्थानीय बीजेपी नेता ही फिल्म प्रोड्यूसर और एक्ट्रेस आयशा सुल्ताना (Aisha Sultana) के खि'ला'फ देश'द्रो'ह का माम'ला दर्ज किए जाने...

साकिब उल हसन ने गु’स्से में उखाड़ फेके तीनो स्टम्प

नई दिल्ली. बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब उल हसन अक्सर वि'वा'दों में घिरे रहे हैं. कभी देश के क्रिकेट बोर्ड से ट'क:रा'व को लेकर, तो...

उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी का बयान लड़कियां फ़ोन रखती है इस लिए भाग जाती है

उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी का बयान काफी चर्चाओं में है. यूपी महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने अलीगढ़ में...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आयशा सुल्ताना के खि’ला’फ देश’द्रो’ह का के’स लगा तो bjp नेताओ ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली. लक्षद्वीप में स्थानीय बीजेपी नेता ही फिल्म प्रोड्यूसर और एक्ट्रेस आयशा सुल्ताना (Aisha Sultana) के खि'ला'फ देश'द्रो'ह का माम'ला दर्ज किए जाने...

साकिब उल हसन ने गु’स्से में उखाड़ फेके तीनो स्टम्प

नई दिल्ली. बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब उल हसन अक्सर वि'वा'दों में घिरे रहे हैं. कभी देश के क्रिकेट बोर्ड से ट'क:रा'व को लेकर, तो...

महिला से पूछा गया सवाल वह कौन सा कार्य है जो सिर्फ रात में ही किया जाता है?

बचपन से ही हर किसी का सपना होता है की वह आईएएस बने लेकिन हर कोई इस सपने को पूरा नहीं कर पाता। कोई...

इंटरव्यू सवाल – शरीर का वो कौन सा अंग होता है जहाँ कभी पसीना नहीं आता ?

हमारे देश के अधिकतर नवजवान आईएएस अधिकारी बनने का सपना देखते है और आईएएस की परीक्षा हमारे देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से...

Recent Comments