Home India जब आखिरी सांस ले रही थी मुस्लिम महिला, तो हिन्दू डॉक्टर ने...

जब आखिरी सांस ले रही थी मुस्लिम महिला, तो हिन्दू डॉक्टर ने सुनाया कल,मा

कोविड-19 से जुड़ी भयावहता की रिपोर्ट्स के बीच मानवता को सुकून देने वाली खबरों की भी कमी नहीं हैं. केरल की एक हिन्दू डॉक्टर ने ऐसा ही उदाहरण प्रस्तुत किया है. डॉ रेखा कृष्णा पलक्कड के पट्टांबी में एक प्राइवेट अस्पताल में कोविड मरीजों के इलाज में जुटी हैं.सेवाना हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में भर्ती एक मुस्लिम महिला की कोविड-19 के साथ निमोनिया से भी पीड़ित होने की वजह से हालत नाजुक थी. महिला को दो हफ्ते पहले अस्पताल में भर्ती किया गया था. वो ICU में थी.

कोविड ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल की वजह से मरीज के रिश्तेदारों को पास जाने की अनुमति नहीं थी. 17 मई तक मरीज की तबीयत काफी बिगड़ गई और अहम अंगों ने काम करना बंद कर दिया. ऐसे में अस्पताल की ओर से फैसला किया गया कि मरीज को वेंटिलेटर सपोर्ट से हटा दिया जाए. मरीज की हालत ऐसी हो चुकी थी कि डॉक्टर्स कुछ ज्यादा नहीं कर सकते थे. मरीज के परिजनों को इस बारे में सूचित कर दिया गया. उस समय डॉ रेखा कृष्णा मरीज के पास मौजूद थीं.

हिन्दू लेडी डॉक्टर ने मुस्लिम मरीज को सुनाया कलमा,डॉ रेखा ने बताया, मरीज का कोई रिश्तेदार पास मौजूद नही था, मुझे लगा कि उनके (मरीज) के लिए कुछ किया जाना चाहिए. क्योंकि मेरा बचपन संयुक्त अरब अमीरात में गुजरा है इसलिए मुझे मुस्लिम इबादत और रीतिरिवाजों की कुछ जानकारी है. मैने धीरे से मरीज के कान के पास कलमा पढ़ा और आंखें बंद कीं. जैसे ही मैंने कलमा पूरा पढ़ा, मरीज ने गहरी सांस ली और मॉनिटर पर लाइन फ्लैट हो गई.”

हालांकि डॉ रेखा ने इस घटना का किसी से जिक्र नहीं किया. बस उनके साथ हॉस्पिटल में कार्यरत डॉ मुस्तफा को ही इसके बारे में जानकारी थी. डॉ मुस्तफा ने ही फेसबुक पर इसका जिक्र करते हुए पोस्ट लिखी. ये पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.डॉ रेखा ने कहा, कोई नहीं समझ सकता कि हम डॉक्टर्स किस दबाव से गुजर रहे हैं. हम अब इन मरीजों के परिवार ही बन गए हैं. डॉक्टर बोलीं- सभी धर्मों का सम्मान
डॉ रेखा के मुताबिक उनका जन्म केरल में हुआ लेकिन पालन-पोषण दुबई में हुआ. डॉ रेखा ने अपनी शिक्षा इंडियन एक्सेसिव फैकल्टी दुबई से की. उनके माता-पिता अभी भी दुबई में हैं. रिसर्च के मकसद से डॉ रेखा भारत आईं और केरल में ही बस गईं. उनके पति त्रिशूर में फिजिशियन हैं. डॉ रेखा का कहना है कि हमें सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए. वे यही संदेश लोगों को देना चाहती हैं.

RELATED ARTICLES

शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा से मिलने पहुँचे भाजपा नेता, सिवान की सियासत में आया तूफान

सीवान. राजद नेता और पूर्व सांसद मुहम्मद शहाबुद्दीन की मौ’त के बाद से ही बिहार की राजनीति ग’रमाई हुई है. सीवान क्षेत्र में शहाबुद्दीन...

दो मुस’लमानों को बीजेपी ने दी बड़ी जिम्मेदारी, एक मुफ़्ती भी शामिल, कभी बताया था आ-तंकी

बीजेपी नेता साबिर अली को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। साबिर अली को बीजेपी ने बड़ी जिम्मेवारी दे दी है। ये वही...

माथे पर प,ट्टी बांधे करन मेहरा की पत्नी निशा रावल आईं सामने, रो रोकर बताया अपने रिश्ते का सच

टीवी जगत की मशहूर जोड़ी निशा रावल ) और करण मेहरा की लड़ाई अब मीडिया के सामने आ गई है. निशा रावल ...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

ज़ाहिद कुरैशी अमेरिकी जज बनने वाले पहले मुस्लिम

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है।...

4 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने आज तक नहीं लगाया एल्को’हल को हाथ, न’शे से करते हैं तौबा

भारतीय टीम (Indian Team) के ऐसे कई क्रिकेटर हैं, जो स्मो किंग भी करते हैं और राब का सेवन भी करते हैं. हार्दिक पांड्या...

आयशा सुल्ताना के खि’ला’फ देश’द्रो’ह का के’स लगा तो bjp नेताओ ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली. लक्षद्वीप में स्थानीय बीजेपी नेता ही फिल्म प्रोड्यूसर और एक्ट्रेस आयशा सुल्ताना (Aisha Sultana) के खि'ला'फ देश'द्रो'ह का माम'ला दर्ज किए जाने...

साकिब उल हसन ने गु’स्से में उखाड़ फेके तीनो स्टम्प

नई दिल्ली. बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब उल हसन अक्सर वि'वा'दों में घिरे रहे हैं. कभी देश के क्रिकेट बोर्ड से ट'क:रा'व को लेकर, तो...

Recent Comments