बिना कोचिंग के ही डाक्टर साहिबा ने पास की IAS की परीक्षा, रचा इतिहास,हो रही तारीफ

Education

नई दिल्ली। सिविल सर्विस की परीक्षा पास करने वाले अधिकतर प्रतिभागी अलग-अलग बैक ग्राउंड से आते हैं। जिसके लिए वह लगातार कोचिंग लेते हैं। लेकिन एक डाक्टर साहिबा ऐसी भी है जिन्होंने बिना कोचिंग के ही आईएएस परीक्षा पास कर ली। बनारस की रहने वाले आईएएस टापर अर्तिका शुक्ला ने बना कोचिंग लिए ही आईएएस टॉप कर लिया।

अर्तिका को डाक्टर साहिबा इसलिए कहा जा रहा है कि क्योंकि आईएएस बनने से पहले अर्तिका ने एमबीबीएस और एमडी की परीक्षाएं भी पास की। जिसको बड़ी उपलब्धि कहा जाएगा।अर्तिका बताती है कि उनके बड़े भाई गौरव के सुझाव ने उनके जीवन की दिशा बदल डाली। उनके परिवार में माता पिता के अलावा दो भाई है। शुरुआती पढ़ाई बनारस में करने के बाद अर्तिका दिल्ली आ गई।


अर्तिका बताती है कि उनके एक भाई गौरव आईएएस अधिकारी है। और दूसरा भाई उत्कर्ष आईआरटीएस सेवा में हैं। वह बताती है सिविल सर्विस की तैयारी करने से पहले उन्होंने मेडिकल कालेज से एमबीबीएस किया। इसके बाद वह पीजीआईएमईआर से एमडी कर रही थी। इसी बीच उनके भाई गौरव ने आईएएस परीक्षा देने का सुझाव दिया। इसके बाद उन्होंने बीच में ही एमडी रोककर सिविल सर्विस की तैयारी शुरू कर दी।

अर्तिका ने तैयारी के लिए कही से भी कोचिंग नहीं ली। हमेशा मैदान जीतने वाले अर्तिका ने यहां पर भी पहले ही प्रयास में परीक्षा में टाप कर दिया।अर्तिका बताती है कि स्कूली किताबों को पढऩे के साथ साथ आसपास की घटनाओं पर भी पैनी नजर रखी जाए तो परीक्षा को निकाला जा सकता है। उन्होंने सिविल सर्विस की तैयारी में लगे युवाओ को टिप्स देते हुए कहा कि प्रतिदिन न्यूज पेपर जरूर पढ़े। प्री से पहले कम से कम 25 टेस्ट पेपर हल कर ले।


इससे न केवल आपका अभ्यास पक्का होगा। बल्कि कमियां भी उजागर होगी। अर्तिका बताती है कि यह प्रत्येक परीक्षा के हिसाब से अपनी अलग तैयारी करे। शुरुआत में असफल होने पर आपको बुरा महसूस हो सकता है। निराशा आ सकती है। लेकिन मंजिल उन्हीं को हासिल होती है जो रास्तों को नहीं छोड़ते हैं। इसलिए लगातार बेहतर तरीके से तैयारी करते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *