भारत की ऑस्ट्रेलिया पर धमाकेदार जीत ,लेकिन सिराज के हाथ आयी मायूसी,जानिए वजह

Sports

नई दिल्ली, जेएनएन।भारत और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला जा रहा है। गाबा में खेले जा रहे इस निर्णायक मैच का आज यानी 19 जनवरी को आखिरी दिन है। भारतीय टीम के सामने जीत के लिए 328 रन का लक्ष्य है। इसके जवाब में भारत ने खबर लिखे जाने तक भारत ने 95 ओवर में 5 विकेट खोकर 313 रन बना लिए हैं।

इस वक्त क्रीज पर रिषभ पंत और वॉशिंग्टन सुंदर हैं। जीत के लिए भारत को अब 5 ओवरों में 15 रन बनाने हैं।इस मुकाबले की बात करें तो मेजबान टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 369 रन बनाए थे, जिसमें मार्नस लाबुशाने का शतक शामिल था। इसके जवाब में पहली पारी में भारत ने शार्दुल ठाकुर और वॉशिंग्टन सुंदर के अर्धशतकों के दम पर 336 रन बनाए थे।

वहीं, दूसरी पारी में 33 रन की बढ़त लेने के बाद कंगारू टीम ने 294 रन बनाए। इस तरह भारतीय टीम को 328 रन का लक्ष्य मिला। चौथे दिन के खेल समाप्त होने तक भारत ने 4 रन बनाए थे।328 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका उपकप्तान रोहित शर्मा के रूप में लगा, जो पांचवें दिन ज्यादा बल्लेबाजी नहीं कर सके। उनको 7 रन के निजी स्कोर पर पैट कमिंस ने टिम पेन के हाथों कैच आउट कराया।

वहीं, शुभमन गिल ने चेतेश्वर पुजारा के साथ पारी को आगे बढ़ाया और दौरे पर दूसरा अर्धशतक जड़ा। उन्होंने 90 गेंदों में अपनी फिफ्टी पूरी की।शुभमन गिल अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का पहला शतक लगाने से चूक गए। गाबा टेस्ट मैच की दूसरी पारी में वे 91 रन बनाकर नाथन लियोन के शिकार बने। भारत को तीसरा झटका कप्तान अजिंक्य रहाणे के रूप में लगा जो 22 गेंदों में 24 रन की तेज पारी खेलकर पैट कमिंस की गेंद पर टिम पेन के हाथों कैच आउट हुए। चेतेश्वर पुजारा ने 196 गेंदों पर सीरीज की तीसरी फिफ्टी पूरी की।

चेतेश्वर पुजारा के रूप में भारत को चौथा झटका लगा जो 211गेंदों में 56 रन बनाकर  पैट कमिंस की गेंद पर lbw आउट हो गए। भारत के लिए चौथी पारी में तीसरा अर्धशतक रिषभ पंत ने जड़ा। उन्होंने 100 गेंदों में पचासा पूरा किया। मयंक अग्रवाल के तौर पर भारत को पांचवां झटका लगा, जो 15 गेंदों में 9 रन बनाकर पैट कमिंस की गेंद पर मैथ्यू वेड के हाथों कैच आउट हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *