बबीता फोगाट की बहन को फाइनल में मिली हार का सदमा बर्दास्त नही,उठाया ये बड़ा कदम

360°

खेल जगत से दिल दहला देने वाली खबर आ रही है. कुश्‍ती का फाइनल मुकाबला हारने के बाद भारतीय महिला पहलवान रितिका ने सुसा,इड कर लिया है. रितिका बबीता फोगाट, गीता फोगाट की ममेरी बहन थीं. उन्‍होंने सोमवार की रात को गांव बलाली में फंदा लगाकर खुद,कुशी की. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रितिका ने 12 से 14 मार्च तक राजस्‍थान के भरतपुर के लोहागढ़ स्‍टेडियम में हुए राज्‍य स्‍तरीय सब जूनियर, जूनियर महिला और पुरुष कुश्‍ती टूर्नामेंट में हिस्‍सा लिया था.

14 मार्च को फाइनल मुकाबला खेला गया था, जिसमें रितिका एक अंक से मैच हार गई थीं. इस हार के बाद से ही वह सदमे में थी और फिर 15 मार्च को रात करीब 11 बजे बलाली गांव के घर में पंखे पर दुपट्टे का फंदा लगाकर आत्‍मह,त्‍या कर ली.राजस्थान के झुंझुनू जिले के गांव जैतपुर की रहने वाली 17 साल की रितिका अपने फूफा द्रोणाचार्य अवार्डी महावीर पहलवान के गांव बलाली स्थित कुश्ती एकेडमी में करीब 5 साल से अभ्‍यास कर रही थी.

53 किग्रा भार वर्ग में राज्‍य स्‍तर पर एक अंक से मिली हार से रितिका इस कदर टूट गई कि उन्‍होंने खतरनाक कदम उठा लिया. वह इससे पहले करीब 4 बार राज्‍य स्‍तरीय प्रतियोगिता में हिस्‍सा ले चुकी थीं.जैसे कि आप सभी जानते है कि बबीता फोगाट ने भारत के लिए हमेसा बढ़िया योगदान दिया है लेकिन आज उनकी बहन ने ये कदम बहुत ही गलत उठाया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *