पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की कार ढाबे में घु’सी, हा’द’से में बा’ल-बा’ल ब’चे

India

पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की गाड़ी ढाबे में घुसी
हादसे में बाल-बाल बचे पूर्व क्रिकेटर अजहरुद्दीन
लालसोट कोटा मेगा हाईवे पर सूरवाल थाने के पास हुआ
आजतक पर छपी खबर के अनुसार टीम इंडिया के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन की गाड़ी ढाबे में घुस गई. इस हादसे में अजहरुद्दीन बाल-बाल बचे हैं. जानकारी के मुताबिक ये हादसा लालसोट कोटा मेगा हाईवे पर सूरवाल थाने के पास हुआ. 57 साल के पूर्व भारतीय कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन अपने परिवार के साथ रणथंभौर आ रहे थे, तभी ये हादसा हो गया. इसी दौरान कार कंट्रोल से बाहर हो गई और फूल मोहम्मद चौराहे पर एक ढाबे में घुस गई. ढाबे पर काम कर रहा एक युवक घायल हो गया ।

हादसे के बाद वहां लोगों की भीड़ लग गई, लेकिन जब सबको पता चला कि कार में खुद अजहरुद्दीन बैठे हैं तो लोग हैरान रह गए. घायल युवक को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दुर्घटना के बाद DSP नारायण तिवारी मौके पर पहुंचे. जानकारी के मुताबिक मोहम्मद अजहरुद्दीन परिवार के साथ न्यू ईयर सेलिब्रेशन के लिए सवाई माधोपुर के रणथंभौर जा रहे थे ।

अजहरुद्दीन के साथ आ रहे व्यक्ति को हल्की चोट आई. इसके बाद दूसरी गाड़ी से मोहम्मद अजहरुद्दीन को परिवार सहित होटल पहुंचाया गया. मोहम्मद अजहरुद्दीन और उनका परिवार अब रणथम्भौर के होटल अमन ए खास में पहुंच गया है. हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष अजहरुद्दीन पिछले हफ्ते अहमदाबाद में थे, जहां उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की वार्षिक आम सभा बैठक में (AGM) भाग लिया था.

AGM से एक दिन पहले सरदार पटेल मोटेरा स्टेडियम में एक फ्रेन्डली मैच खेला गया. अजहरुद्दीन ने जय शाह की नेतृत्व वाली सेक्रेटरी XI के लिए खेलते हुए 37 रन बनाए थे. इस मैच में सेक्रेटरी XI ने सौरव गांगुली की प्रेसिडेंट XI को 28 रनों से मात दी थी. भारत के लिए अजहर ने 99 टेस्ट मैचों में 45.03 की औसत से 6215 रन बनाए और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 199 रन है. इसके अलावा 334 वनडे में उन्होंने 36.92 की औसत से 9378 रन बनाए हैं और उनका बेस्ट स्कोर 153* रन रहा है ।

मोहम्मद अजहरुद्दीन ने साल 1984 में इंटरनेशनल क्रिकेट में दस्तक दी थी. अजहर ने अपना पहला टेस्ट मैच 31 दिसंबर 1984 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला. उनकी शानदार बल्लेबाजी स्टाइल के लिए उनको कलाइयों का जादूगर कहा जाता था. मोहम्मद अजहरुद्दीन 1990 में टीम इंडिया के कप्तान बने. अजहरुद्दीन ने 1992, 1996 और 1999 के वर्ल्ड में टीम इंडिया की कप्तानी का जिम्मा संभाला. मोहम्मद अजहरुद्दीन ने अपनी कप्तानी में भारत को 14 टेस्ट और 90 वनडे मैच जिताए हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *