Home Lifestyles आसिफ अहमद के बिरयानी के ठेले को लेकर आई बड़ी खबर, नही...

आसिफ अहमद के बिरयानी के ठेले को लेकर आई बड़ी खबर, नही थी उम्मीद,आज है इतने

चेन्नई: हम में से बहुत से लोग इस सिर्फ़ इसलिए आगे पढ़ाई जारी नहीं रख पाते क्योंकि उनके घर की मजबूरियाँ उनके आगे बाधा बनकर खड़ी हो जाती हैं। भले ही उनके अंदर पढ़ाई को लेकर कितनी भी लगन और परिश्रम करने की क्षमता क्यों ना हो। लेकिन बहुत से लोग इन मजबूरियों के बाद भी अपना रास्ता बना ही लेते हैं। उन्हें ही ज़िन्दगी का असली सिकंदर कहा जाता है।

हमारी आज की कहानी भी एक ऐसे ही शख़्स से जुड़ी हुई है। उस शख़्स को बचपन में आर्थिक तंगी के चलते पैसा कमाने के लिए घर से बाहर निकलना पड़ा। ताकि घर के हालात को संभाला जा सके। लेकिन घर संभालने के चक्कर में उसकी ज़िन्दगी कई बार डगमगा गई। परन्तु उसने हार नहीं मानी और आज वह कामयाबी की नई मिसाल बन कर खड़ा हो गया है। आइए जानते हैं क्या है उस शख़्स की कहानी।

इस शख़्स का नाम है आसिफ अहमद। जो कि चेन्नई के पल्लवरम में रहता है। आसिफ अहमद का जन्म एक मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था इसलिए उसके जीवन में संघर्षों का सफ़र बचपन से ही शुरू हो गया था। पिता को नौकरी से सस्पेंड कर दिए जाने के चलते उनके परिवार की हालत और ज़्यादा खराब हो चली थी। इसे देखते हुए उन्हें 12 साल की उम्र में ही काम करना पड़ा। वह इस उम्र में अख़बार डालने का काम करने लगे और साथ ही साथ किताबें बेचकर भी कुछ आमदनी कर लेते थे।

आसिफ को पैसा कमाना था, लिहाजा वह लगातार नए-नए प्रयोग करते रहते थे। इसी क्रम में उन्होंने 14 साल की उम्र में ही चमड़े के जूते का कारोबार शुरू किया। चमड़े के जूते का कारोबार सही चल पड़ा था। इससे उन्होंने करीब एक लाख की शुरुआती आमदनी भी प्राप्त कर ली थी। लेकिन अचानक से चमड़े का कारोबार मंदा पड़ गया। जिसके चलते उनका बना बनाया कारोबार ठप होने की कगार पर पहुँच गया।आसिफ का जब चमड़े के जूते का कारोबार बंद हो गया तो उन्होंने अपने बचपन के शौक को पूरा करने की सोची। वह बचपन से ही खाना बनाने के बेहद शौकीन थे। इसलिए उन्होंने एक बिरयानी विशेषज्ञ वाले के यहाँ काम पकड़ लिया।

जो कि विवाह शादियों और स्थानीय कार्यक्रमों में काम किया करता था। उन्हीं के साथ आसिफ भी बतौर सहायक काम किया करते थे। लेकिन स्थाई रोजगार की चाहत ने आसिफ से ये नौकरी भी छीन ली।कहते हैं कि ग़रीबी में आटा गीला होना। आसिफ के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। आसिफ को कोई नौकरी लगवाने वाला एजेंट मिला। जिसने आसिफ को बताया कि वह 35 हज़ार रुपए में नौकरी लगवाता है। आसिफ उसके लालच में आ गए और पैसों का जुगाड़ कर लिया। लेकिन वह एजेंट जैसे ही मुंबई पहुँचा और आसिफ से पैसे लिए कि वह गायब हो गया। लिहाजा आसिफ यहाँ से भी धोखा खाकर घर वापिस आ गए। अब वह बेहद निराश हो गए थे।

RELATED ARTICLES

माधुरी दीक्षित की बहन बेहद खूबसूरत हैं, पहली बार वह कैमरे के सामने आईं, खूबसूरत तस्वीरें

बॉलीवुड में काम करने वाली अभिनेत्रियां बहुत खूबसूरत हैं, माधुरी दीक्षित का नाम हर कोई जानता है। लेकिन आपने शायद ही सुना हो कि...

सनी लियॉन की खूबसूरत भाभी ने स्टाइल में सनी लियॉन को भी पीछे छोड़ दिया है, देखें

सनी लियोनी एक समय था जब एडल्ट फिल्मों के लिए मशहूर थी, लेकिन आज सनी लियोनी बॉलीवुड का एक बहुत बड़ा नाम है। आपकी...

वैज्ञनिकों के अनुसार ये है दुनिया की सबसे सुंदर महिला, शरीर का हर एक अंग है बिल्कुल परफेक्ट

एक वैज्ञानिक सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष निकाला गया है कि केली ब्रुक का चेहरा और शरीर दुनिया में सबसे सुंदर है. वह ना ही...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

वैज्ञनिकों के अनुसार ये है दुनिया की सबसे सुंदर महिला, देखें कैली ब्रुक की विशेष तस्वीरें

एक वैज्ञानिक सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष निकाला गया है कि केली ब्रुक का चेहरा और शरीर दुनिया में सबसे सुंदर है. वह ना ही...

गार्ड चाहिए, सैलरी 30000 , रहना खाना। फोटो दबाकर नम्बर लें

Bisleri कंपनी में भर्ती मिल रहा है बढ़िए मौका सैलरी 35000कोई भी अप्लाई कर सकता है अप्लाई करने के लिए सबसे नीचे जाइये पति भगवान्...

सवाल यदि कोई 18 साल की लड़की ढीले-ढाले कपड़े पहन आपके आगे झुक के प्रणाम करे तो सबसे पहले आपको क्या दिखेगा?

आपको बताते चलें कि देश के अधिकांश युवा वर्ग आज आईएएस आईपीएस की तैयारियों में जुटा हुआ है लेकिन आईएएस आईपीएस अधिकारी बनना इतना...

ज़ाहिद कुरैशी अमेरिकी जज बनने वाले पहले मुस्लिम

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है।...

Recent Comments