ईद के दिन रोहित शर्मा और इंडियन टीम ने दी फैंस के लिए स्पेशल ईदी

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019. इंग्लैंड में खेला जा रहा है. फ़ाइनली इंडिया ने अपना पहला मैच खेला. ईद का दिन था. भारतीय फैन्स के चाहते थे कि स्पेशल ईदी जीत के रूप में मिले और आखिरकार मिली भी. सामने थी साउथ अफ़्रीका. इंडिया ने मैच 6 विकेट से जीत लिया और वर्ल्ड कप की शुरुआत जीत के साथ की है. साउथ अफ़्रीका का ड्रेसिंग रूम इस वक़्त दुनिया का सबसे टेंशन से भरा कमरा होगा.

लेकिन इस सबसे इतर, रोहित शर्मा की इनिंग्स के बारे में हर कोई बात करना चाहेगा. इंडिया के लिए पहले ही मैच में उन्होंने शुरुआत से लेकर मैच ख़तम होने तक बैटिंग की और सेंचुरी जड़ी. रोहित शर्मा जब आये तब लग नहीं रहा था कि वो बहुत ज़्यादा कम्फर्टेबल हैं. शुरुआत में ही, जब वो 1 रन पर खेल रहे थे, रबाडा की एक शॉर्ट बॉल पर उनका कैच छूटा.

फ़ाफ़ डु प्लेसी ने आगे कूदकर कैच लेने की पूरी कोशिश की लेकिन रोहित शर्मा किस्मत के धनी थे और यहां बच गये. क्रिस मॉरिस की एक गेंद ने भी उन्हें परेशान किया था और जेपी ड्यूमिनी अगर थोड़ा सा पीछे खड़े होते तो बेशक रोहित शर्मा का कैच वो ले सकते थे. ये एक ऐसी गेंद थी जिसके बारे में रोहित शर्मा को कोई भी आइडिया नहीं था. रबाडा ने उन्हें अपनी पेस से भी परेशान किया.

लेकिन इस शुरुआती टेंशन से भरे टाइम के बीत जाने के बाद रोहित ने हाथ खोलने शुरू किये. 8वें ओवर में उन्होंने रबाडा के ख़िलाफ़ अच्छे रन निकाले. इस ओवर में 1 वाइड समेत 15 रन आये. यहां से रोहित शर्मा ने अपना गेम खेलना शुरू किया और इंडिया को मैच जिता कर ही दम लिया. उनका फाइनल स्कोर था 144 गेंद में 122 रन.

अपनी इनिंग्स में रोहित ने कुल 13 चौके और 2 छक्के मारे. पिछले 3 वर्ल्ड कप्स से भारतीय टीम के किसी न किसी प्लेयर ने टूर्नामेंट के पहले मैच में सेंचुरी मारी है. 2011 वर्ल्ड कप में बांग्लादेश के ख़िलाफ़ वीरेन्द्र सहवाग और विराट कोहली ने शतक जड़ा था. 2015 विश्व कप में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ विराट कोहली ने सेंचुरी मारी थी.

अब ये काम रोहित शर्मा ने किया है. पहली इनिंग्स में जसप्रीत बुमराह ने जो कहर बरपाना शुरू किया, साउथ अफ़्रीका बहुत कोशिशों के बावजूद उससे उबर नहीं पाया. बुमराह ने 10 ओवर में 35 रन दिए और साउथ अफ़्रीका को शुरुआती झटके दिए. अपनी फ़ेंकी 60 गेंदों में 41 गेंदें बुमराह ने डॉट फ़ेंकी इसके साथ ही युजवेंद्र चाहल ने साउथ अफ़्रीका के मिडल ऑर्डर को सेटल नहीं होने दिया और 10 ओवर फ़ेंक कर 4 विकेट्स निकाले.

इनिंग्स के अंत में मॉरिस और रबाडा के बीच हुई 66 रनों की पार्टनरशिप की वजह से ही साउथ अफ़्रीका 200 के पार पहुंच सकी वरना एक समय पर वो 180-190 पर ऑल आउट होती दिखाई दे रही थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *